किसी ने अपने ही पति को मार कर कुकर में पकाया , तो किसी ने जलाया प्राइवेट पार्ट

1798

यह तो आप सब जानते है की औरतों का सम्मान अपने देश में शुरू से ही किया जाता है. और साथ ही हमारे देश में तो औरतों को देवी का दर्जा दिया गया है. साथ ही हमारे यहाँ महिलाओ को उन्हें ममता की मूर्त कहा जाता है. दयालु कहा जाता है. प्रभु ने भी उनमे क्षमा करने की शक्ति पुरुषो से ज्यादा दी है. आखिर क्या है महिला इसकी पूरी परिभाषा जो समझ गया समझो उसने नारी जीवन को जान लिया.

माना जाता है, औरत अपने परिवार के लिए क्या कुछ नही करती है. इसलिए महिलाओं को त्याग की देवी भी कहा जाता है, पति की मार खाकर भी कुछ नही कहती है. जहाँ एक तरफ औरत अपने मायके का ख्याल रखती है. वहीँ साथ साथ ससुराल जाकर वहाँ का भी ध्यान रखती है.महिलायों की जगह कोई नही ले सकता!

और शादी के बाद महिलाये अपने पति को भगवान मानती है. और उनकी लम्बी उम्र के लिए वर्त रखती है. उनकी पूजा करती है. लेकिन कुछ ऐसी भी महिलाएं है. जिन्होंने अपने पति को मौत के घाट उतार दिया. आखिर ऐसा क्या हुआ था. इनके साथ जो इन सभी महिलाओं को इतना कड़ा कदम उठाना पड़ा. किसी ने अपने पति को कुकर में पकाया तो किसी ने जिन्दा जला दिया. इनकी कहानी जानोगे तो आपकी आखें फटी की फटी रह जाएँगी!

देखिये यह विडियो:-