हो जाये सावधान कहीं आप भी तो बादाम भिगोकर तो नहीं खा रहे ?

4898

आपने अक्सर लोगों को भीगे हुए बादाम खाते देखा होगा और यकीन मानिये एक रात पहले भिगोये गए बादाम सुबह खाने में इतन अच्छे लगते हैं की मैं आपको बयां नहीं कर सकता | पर क्या आपने एक चीज़ गौर की है कभी या कभी ही आपके ज़ेहन में आई हो की भीगे हुए बादाम किसे खाने चाहिए और किस वक्त |दोस्तों एक बात तो तय है बादाम में बहुत ज्यादा प्रोटीन होता है पर भीगे हुए बादाम हर किसी को नहीं खाने चाहिए | आइये बताता हूँ इसके कारण |

दोस्तों एक शोध के अनुसार बच्चों के एक दिन में 4-5 बादाम ही खाने चाहिए वो भी भीगे हुए, अगर भीगे हुए नहीं खा रहें हैं तो 1-२ बादाम ही काफी हैं क्यों की बादाम की तासीर बहुत गरम होती है और ज्यादा मात्र में लेने पर ये बुरा असर भी कर सकता हैं | ज्यादा बादाम खाने से आपके चेहरे पर दानों और मुहांसों की समस्या हूँ सकती है |

तो अब से जब भी बादाम खायें तो भीगे हुए ही खाएं | दिल को रखे स्वस्थ्य, बजन बढ़ने में सहायक, दिमाग करे तेज़, कैंसर को रखे दूर, बालों के लिए फायदेमंद, डायबिटीज करे कम, हड्डियों को मज़बूत करे, कब्ज़ में फायदेमंद बादाम के कुछ ओर फायदे तथा गुण :- सुबह 10 बादाम रोजाना दूध के साथ खाने पर anemia (खून की कमी) दूर हो जाता है. लेकिन ऐसा कुछ हफ़्तों के लिए करना होता है|

मॉर्निंग में बादाम की पेस्ट में आधा चम्मच जायफल और एक चुटकी सौंठ का डालकर दूध या पानी के साथ खाने से चिंता (anxiety), डर(फोबीया), nervousness और तनाव दूर हो जाता है| यौन शक्ति और स्टैमिना बढ़ने के लिए 10 बादाम की पेस्ट में कुछ काली मिर्च मिलकर एक कप दूध के साथ लीजिए| इससे नपुंसकता ख़तम होगी और मर्दाना शक्ति बढ़ेगी|मेमोरी पॉवर (याददाश्त) बढाने के लिए 2 चम्मच मक्खन, थोड़ी सी मिश्री और 10 बादाम की पेस्ट को आपस में मिला लीजिये| इसे रोज सुबह दूध के साथ लीजिए आपका दिमाग़ तेज होगा और मेमोरी बढ़ेगी| chickenpox यानि छोटी माता को जल्दी से ठीक करने के लिए 5 बादाम की पेस्ट को पानी के साथ सुबह ग्रहण करने से फायदा होता है में|

बादाम वजन घटाने में भी मददगार होते हैं। इसमें मोनोअनसेचुरेटेड फैट आपकी भूख को रोकने और पूरा महसूस करने में मदद करता है। भीगा हुआ बादाम एंटीऑक्‍सीडेंट का भी अच्‍छा स्रोत हैं। यह मुक्‍त कणों के नुकसान से बचाकर उम्र बढ़ने की प्रक्रिया को रोकता है। भीगे बादाम में विटामिन B17 और फोलिक एसिड कैंसर से लड़ने और जन्‍म दोष को दूर करने के लिए महत्‍वपूर्ण होता हैं।भीगे हुए बादाम पाचन क्रिया को मज़बूत और स्वस्थ बनाता है।

जर्नल ऑफ फूड साइंस में प्रकाशित एक अध्ययन में ये पाया गया कि भीगे कच्चे बादाम खाने से पेट जल्दी साफ होता है और प्रोटीन पचाना आसान हो जाता है। बादाम का छिलका निकल जाने से उसके छिलते में मौजूद एंजाइम अलग हो जाते हैं और इस वजह से फैट तोड़ने में आसानी होती है। ऐसे में पाचन क्रिया और पोषक तत्वों का अवशोषण आसान हो जाता है।

बादाम ब्‍लड प्रेशर के लिए भी अच्‍छे होते हैं। जर्नल फ्री रेडिकल रिसर्च में प्रकाशित एक अध्ययन के अनुसार, वैज्ञानिकों ने पाया कि बादाम का सेवन करने से ब्‍लड में अल्‍फा टोकोफेरॉल की मात्रा बढ़ जाती है, जो किसी के भी रक्‍तचाप को बनाये रखने के लिए महत्‍वपूर्ण होता है। अध्‍ययन से यह भी पता चला कि नियमित रूप से बादाम खाने से एक व्‍यक्ति का ब्‍लड प्रेशर नीचे लाया जाता है। और यह 30 से 70 वर्ष की उम्र के बीच के पुरुषों में विशेष रूप से प्रभावी था।

देखें यह विडियो:-