नही देखा होगा ऐसा पुलिस अफसर, दिन भर करते है ड्यूटी और शाम को …

418

किसी की जिंदगी बनाने के लिए आपका एक प्रयास कइयों के लिए मिसाल बन सकता है! समाज को सही दिशा दिखाने की ऐसी ही एक पहल IPS अधिकारी निशांत तिवारी ने की है! जिन्होंने अपने दम पर अच्छे समाज की तस्वीर बनाने की ठानी है!

बिहार में सीमावर्ती जिले पूर्णिया के पुलिस अधीक्षक निशांत कुमार तिवारी समाज में व्यवस्था बनाए रखने के लिए! और साथ ही अपने प्रयासों के साथ बिहार के पूर्णिया जिले में रह रहे है! प्रवासी मजदूरों के बच्चों को नि:शुल्क शिक्षा देते हैं! ‘शाम की पाठशाला’ नाम के इस शिक्षा मंदिर में निशांत ऐसे परिवारों के बच्चों को पढ़ाते हैं!

जो दूसरे राज्यों से यहां मजदूरी के चलते आते हैं!निशांत अपनी इस कक्षा में बच्चों के साथ-साथ अनपढ़ मजदूरों को भी पढ़ाते हैं! निशांत की इस पहल में कई लोग उनका साथ देने आगे आ रहे हैं!

जो पहले एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर के रूप में अमेरिका में काम करते थे! पुलिस बल में शामिल होने के लिए भारत लौट आए! लेकिन ऐसा बहुत कम देखने को मिलता है! की इतनी बड़ी पोस्ट पर होने के बाद कोई अफसर ऐसा सोच सकता है! लेकिन ऐसा जब सामने आया तो गर्व महसूस हुआ! की भारत देश में ऐसे अफसर भी है!

जो गरीब बच्चो की इतनी मदद कर रहे है! निशांत ने बताया की उन्हें जॉब के बाद जितना भी टाइम मिलता है! वो टाइम पाठशाला में बिताते है! उनकी सोच है! की हर बच्चे को शिक्षा मिल सके! ताकि हर बच्चा पढलिख सके!ऐसे अफसर की सोच को हम सलाम करते है!

जो देश की सेवा के साथ साथ जनता की भी सेवा कर रहे है! अगर ऐसी सोच सभी लोगो की हो जाये तो वो दिन दूर नही होगा! जब हमारे देश का कोई बच्चा अनपड होगा! निशांत देश के लिए एक मिसाल है!

देखें यह विडियो:-