डेरे से बरामद हुई बाबा राम रहीम के गुनाहों की “हार्ड डिस्क” , खुल गये कई राज़

188

सिरसा के बाबा संत राम रहीम सिंह को साध्वी यौन शोषण मामले में सजा मिलने के बाद एक-एक करके उसके गुनाहों पर से पर्दा उठ रहा है. वैसे देखा जाए तो डेरे में गुफा, बलात्कार के दबे हुए कई मामले, बिना लाइसेंस के हथियार, डेरे में कंकालों का मिलना, मर्डर केस जैसे हजारों मामले अब सबके सामने आ चुके है. लेकिन डेरे की तलाशी के बाद के बाद जो खुलासा हुआ है. उसे सुनकर आप दंग रह जाएंगे!

अब मौजूदा खबर अनुसार बाबा के रूप में यह किसी शैतान से कम नहीं था. ये राम रहीम. लेकिन आज जो खबर हम आपको बताने जा रहें है उसे सुनकर आपके पैरों तले से ज़मीन खिसक जाएगी. दरसल, राम रहीम के डेरों की तलाशी के बाद पुलिस के हाथ एक हार्ड डिस्क लगी थी. जिसमे न केवल राम रहीम के गुनाह मौजूद थे. बल्कि उन तमाम काले धन और बेनामी प्रॉपर्टीज का कचा-चिठा मौजूदा था. जिसे देखकर पुलिसवाले भी दंग रह गये!

बता दें कि ये हार्ड डिस्क एनफोर्समेंट डायरेक्टरेट (ED) को सौंपी जाएगी. इस हार्ड डिस्क को जलाकर डैमेज करने की कोशिश भी की गई थी. इसके बावजूद भी पुलिस ने हार्ड डिस्क को रिकवर कर लिया है. इसमें खुद को बाबा संत कहने वाले राम रहीम की 700 करोड़ से ज्यादा की प्रॉपर्टी और हवाला कारोबार की पूरी डिटेल है. साथ ही बताया जा राहा है. की इस हार्ड डिस्क में ये पूरी डिटेल है. कि डेरा सच्चा सौदा की ओर से किसे कितनी रकम दी ग.ई और कितने रुपए कहां पर इन्वेस्ट किए गए. इसके अलावा डेरे के हत्यारों की भी जानकारी इस हार्ड डिस्क में मौजूद है!

बताते चलें कि हार्ड डिस्क बरामद होने के बाद डेरा सच्चा सौदा के मैनेजमेंट कमिटी के 45 सदस्यों को पंचकुला पुलिस ने नोटिस भेजा है. इसके अलाव पुलिस को पता चला है. कि फरारी के दौरान हनीप्रीत ने 17 सिम कार्ड का इस्तेमाल किया, जिनमें तीन विदेशी सिम भी शामिल थे. हरियाणा पुलिस हनीप्रीत का नार्को टेस्ट करवा सकती है.

 दरअसल, पूछताछ के दौरान हनीप्रीत लगातार पुलिस को गुमराह करने की कोशिश कर रही है. साथ ही पता चला है की पंचकुला की हिंसा करवाने के लिए एक करोड़ पचीस लाख की रकम दी गई. जिसमे से एक सक्श से 24 लाख बरामद किये गये. बाकि रकम का अभी कुछ पता नही चल पाया है. बाकि की जानकरी पुलिस हन्नीप्रीत से जुटाने की कोशिश में लगी हुई है!