सेना की कई यूनिट में स्मार्टफोन पर लगी पाबंदी,जवानों के सोशल मीडिया पर वीडियों व निजी तस्वीरें डालने पर लगाई रोक

1023
सेना की ओर से एक के बाद एक वायरल हो रही शिकायत वाले वीडियों ने पूरे देश के साथ-साथ सरकार को हिला के रख दिया है। इसलिए गृह मंत्रालय ने अर्धसैनिक बलों के जवानों के सोशल मीडिया पर वीडियों व निजी तस्वीरें डालने पर रोक लगा दी है।
वहीं सूत्रों के अनुसार सेनी में कई यूनिटस में स्मार्ट फोन पर पाबंदी लगा दी गई है। सरकार ने कहा है कि जवानों को आदेशों का पालन करना होगा। सरकार ने कहा कि जवान तस्वीरे खींचकार टविटर, फेसबुक, व्हाटस एप्प व इंस्टाग्राम सहित अन्य सोशल मिडिया पर अपलोड नहीं कर सकता।
लेनी होगी डीजी से परमिशन
गृह मंत्रालय ने यह फैसला इसलिए लिया है ताकि देश की सुुरक्षा व जवानों के मनोबल में कोई कमी नही आए। अर्धसैनिक बलों के जवानों को सोशल मीडिया इस्तेमाल करने से पहले डीजी से इजाजत लेनी होगी।
शिकायतों की जांच के बाद तत्काल निपटाया जाए
वहीं सरकार ने सेना के जवानों की शिकायत के निपटारे के लिए बने सेल की जानकारी को जवानों तक पहुंचाने के लिए भी सभी प्रामिलिट्री फोर्स को निर्देश दे दिए है। शिकायतों की निष्पक्ष जांच के बाद उन्हें तत्काल निपटाया जाएगा।
गौरतलब है कि पिछले कई दिनों से सेना के जवानों ने ने सोशल मीडिया पर अधिकारियों की शिकायतों व मिल रही असुविधाओं को लेकर शिकायत वाली वीडियों डाली थी। बीएसएफ के जवान तेज बहादुर ने खराब खाना मिलने, जवान युग प्रताप सिंह ने घरों में अफसरों की तरफ से घर के काम करवाने, एसएसबी के जवान ने अधिकारियों पर तेल व राशन बेचने जैसी कईं वीडियों अपलोड की गई थी। इसलिए गृह मंत्रालय ने यह फैसला लिया है ताकि देश की सुुरक्षा व जवानों के मनोबल में कोई कमी नहीं आए।