केजरीवाल ने कहा गीता है RSS वालो की ! इसलिए मैंने ठुकरा दिया

3708

देश की राजधानी दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल ने रविवार को साबित कर दिया है कि वो हिन्दू कट्टर विरोधी नेता है। धर्म और राजनीति दो अलग पहलू है लेकिन केजरीवाल ने उपहार स्वरूप दी जा रही हिन्दू धर्म की पवित्र पुस्तक गीता को ठुकरा दिया और उन्होंने यह साबित कर दिया है कि वो हिंदुत्व के खिलाफ राजनीति कर रहे है।

हालांकि ऐसा देखा गया है की कई अन्य पार्टियों में भी हिन्दू विरोधी है लेकिन श्री केजरीवाल ने जिस तरह से स्वंय को प्रस्तुत किया है। उससे पता चलता है कि उनकी मानसिकता कितनी है !

आपको बता दें कि चंदा बंद सत्याग्रह का प्रतिनिधिमंडल रविवार को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल के आवास पर पहुँचे। जंहा प्रतिनिधिमंडल ने उन्हें गीता भेंट की, लेकिन माननीय मुख्यमंत्री श्री अरविन्द केजरीवाल ने गीता लेने से इंकार कर दिया। हालांकि, श्री केजरीवाल ने इस बात की पुष्टि नहीं कि उन्होंने क्यों गीता लेने से इनकार किया !

ऐसे की पहले भी कई बार हिन्दू विरोधी टिप्पणी करते हुए सुर्खियों मे रहने वाले दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल ने इस बार भी कोई मोका नही छोड़ा ! इस टिप्पणी के बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल को शोशल मीडिया पर लोगो ने खूब जम कर कोसा !

ताज़ा अपडेट अपने के लिए हमारे फेसबुक पर लाइक करे !