राहुल गाँधी ने शेर के जरिये मोदी की नोटबंदी को जमकर कोसा

417

उत्तराखंड के अल्मोड़ा में कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने एक बार फिर मोदी पर हमला बोलते हुए बशीर बद्र के शेर के जरिए पीएम मोदी की नोटबंदी को जमकर कोसा! कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी शुक्रवार को अल्मोड़ा में जन सभा को संबोधित करने पहुंचे। अल्मोड़ा के एसएसजे परिसर मैदान में यह रैली शुरू हुई। वह हेलीकॉप्टर से दोहपर एक बजे सेना के मैदान में पहुंचे। राहुल ने बशीर बद्र की लाइन को कोट करते हुए अपनी भाषण की शुरुआत की। राहुल गाँधी ने शेर में कहा…..

लोग टूट जाते हैं एक घर बनाने में,
तुम तरस नहीं खाते बस्तियां जलाने में..

राहुल गाँधी ने कहा की कांग्रेस पार्टी भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई मेें हमेशा साथ खड़ी रहती है। उत्तराखंड को 7 हजार करोड़ रुपए नहीं दिए। जो आपका हक है। कांग्रेस पार्टी ने मोदी जी से सिर्फ तीन मांग की थी। कर्ज माफ, बिजली बिल हाफ और अनाज का सही दाम। मोदी ने लोगों से मनरेगा छीना। हिंदूस्तान के मजदूरों को कहा कि वे गड्ढेे खोदते हैं।
छत्तीसगढ़ और राजस्थान में आदिवासियों के खिलाफ युद्ध छेड़ रखा है। 1हिंदुस्तान को दो भागों में बांट रखा है। एक तरफ हिंदुस्तान के सुपर रीच 1 प्रतिशत लोग 50 परिवार। दूसरी तरफ 99 फीसदी लोग, गरीब लोग हैं। पिछले ढाई साल में नरेंद्र मोदी सरकार ने 1 फीसदी लोगों को फायदा पहुंचाया है। ये वही लोग हैं जो आपके साथ ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड जाते हैं। कालाधन हिंदुस्तान के 99 फीसदी लोगों के पास नहीं है। मोदी जी कितने कालेधन वालों को आपने जेल में डलवाया। उत्तराखंड में टूरिज्म को खत्म कराया। नोटबंदी के बाद भाग गए टूरिस्ट। नोटबंदी गरीबों और मजदूरों पर बमबारी की तरह है। सरकार के फैसले से किसानों को नुकशान हुआ है। राहुल गाँधी ने कहा की विजय माल्या को विदेश से क्यों नहीं लाए? बंगाल की बीजेपी यूनिट ने कैसे नोटबंदी के पहले पैसे जमा कराए? नोटबंदी से पहले बिहार में कैसे जमीन खरीदी?

गुरुवार को बहराइच में राहुल गांधी ने कहा था की मोदी जी मेरे सवालों का जवाब नहीं दे रहे हैं, बल्कि मजाक उड़ा रहे हैं।आपने कहा कि लाइन में लगे हुए लोग चोर हैं और फिर उन चोरों की उंगली पर निशान लगाया। मोदी जी आपने देश के 99 प्रतिशत ईमानदार लोगों को लाइन में खड़ा कर दिया। मोदी जी की कैशलेस दुनिया में 100 रुपये यहां से निकलेंगे और 5 परसेंट पैसा 50 परिवारों को चला जाएगा। मोदी जी ने टेलीफोन लाइन पर भाषण दिया, वो लाइन इतनी खराब थी कि भाषण ही नहीं सुनाई दिया।

नमंत्री नरेंद्र मोदी ने नोटबंदी का विरोध कर रहे लोगों को करारा जवाब दिया है। पीएम ने राहुल गांधी पर पलटवार करते हुए कहा कि वह युवा हैं, अभी भाषण सीख रहे हैं। मोदी ने कहा कि अच्छा हुआ उन्होंने बोल दिया, नहीं बोलते तो भूकंप आ जाता. प्रधानमंत्री ने कहा, किसी का कालाधन खुल रहा है तो किसी का काला मन खुल रहा है। मोदी का राहुल पर तंज़, ‘अच्छा हुआ बोल दिया, नहीं बोलते तो भूकंप आ जाता’। मोदी ने राहुल गांधी के द्वारा उन पर लगाए गए भ्रष्टाचार के आरोपों की खिल्ली उड़ाते हुए कहा कि वो भाषण देने की कला सीख कर रहे हैं। मोदी ने तंज कसते हुए कहा कि राहुल के भाषण से भूकंप आया। मोदी ने कहा कि जब से राहुल बोल रहे हैं वह काफी खुश हैं। इसके साथ ही पीएम ने पूर्व प्रधानमंत्री मोदी ने पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और पी चिदंबरम को भी जवाब दिया। कांग्रेस पार्टी को घेरते हुए पीएम ने कहा कि जब राहुल कहते हैं कि देश की बड़ी संख्या अनपढ़ है तो वो किसका रिपोर्ट कार्ड पेश कर रहे होते हैं। उन्होंने कहा कि ये 50 फीसदी गरीबी हम किसकी झेल रहे हैं? मनमोहन सिंह अपने कार्यकाल की रिपोर्ट दे रहे हैं।