हम देशद्रोही बेटे का शव नहीं लेंगे। जो देशद्रोही है वह मेरा बेटा नहीं हो सकता।

2547

हमारे देश में देशभक्तों की कमी नहीं है। जब बात देश की आन पर आती है तो हर कोई आगे आ जाता है। ऐसा ही लखनऊ एनकाउंटर में मारे गए सैफुल्लाह के पिता ने कर के दिखा दिया है कि देशभक्त किसी आंतकी का पिता भी हो सकता है। जी हां आपको यह जानकर हैरानी होगी, लेकिन यह सच है।

लखनऊ एनकाउंटर में मारे गए सैफुल्लाह के पिता सरताज अहमद ने आंतक को कड़ा जवाब देते हुए अपने बेटे का शव लेने से इन्कार किया है। इन शब्दों में एक देशभक्त पिता ने आंतक को कड़ा जवाब दिया है। देशभक्त सरताज अहमद ने कहा है कि जो देशद्रोही है वो मेरा बेटा नहीं हो सकता। उन्होंने अपने आंतकी बेटे का शव लेने से साफ मना कर दिया है।

सरताज अहमद ने कहा है कि बेटे का शव ना लेने की वजह यह है कि उसने कभी मेरा कहना नहीं माना। उसका जब आखिरी बार फोन आया था तो उसने कहा था कि मेरा सऊदी का वीजा लग गया है। मै वहां जा रहा हूं। सरताज अहमद ने कहा कि हम देशद्रोही बेटे का शव नहीं लेंगे। जो देशद्रोही है वह मेरा बेटा नहीं हो सकता।

उन्होंने आगे कहा कि ढ़ाई महीने पहले हम उससे कहा करते थे कि कुछ काम किया करो, लेकिन वह हमारी बात कभी नहीं सुनता था। वह अपने दोस्तों के साथ ज्यादात्तर बाहर ही रहा करता था। एक दिन हमने उसे बहुत मारा और डांटा। सुबह मैं ड्यूटी चला गया। शाम को जब घर आया तो पता चला कि वह भाग गया है। उन्होंने कहा कि हमने भी न्यूज देखी, लेकिन पुलिस ने बताया कि आपके बेटे का साथ ऐसा हुआ है। सैफुल्ला के भाई का ने बताया कि पुलिस के कहने पर उसने सैफुल्लाह से आत की थी और उसे सरेंडर करने को कहा था, लेकिन वह नहीं माना और आखिरकार मारा गया।

ताज़ा अपडेट पाने के लिए हमारे फेसबुक पेज पर लाइक करे, ऐसी और विडियो देखने के लिए इस खबर निचे जाये !