अब नही चलेगा तलाक-तलाक-तलाक

248

आज मोदी सरकार ने मुस्लिम महिलाओं को न्याय दिलवाने में अपना वादा पूरा किया है! प्रधानमंत्री मोदी और BJP के एजेंडा पे ट्रिपल तलाक! जैसे अमानवीय पक्ष को खत्म करने के लिए सुप्रीम कोर्ट में पिछल कुछ समय से सुनवाई चल रही थी! जिसको आज 5 जजों की समिति ने अवैध और असंवैधानिक घोषित कर दिया है! इस न्योचित आदेश से मुस्लिम महिलाओं में ख़ुशी की लहार दौड़ रही है!

और साथ ही आज मुस्लिम महिलाओ में ख़ुशी की लहर देखने को मिली! मुस्लिम महिलाओं ने इसे अपनी आज़ादी और हक माना है! साथ ही कहा है की आज BJP और मोदी जी के कारण हमारी हकों की लड़ाई पूरी हुई है! एक तरह से देखा जाए तो मोदी सरकार ने ट्रिपल तलाक! मामले में बड़ी भयंकर सर्जिकल स्ट्राइक की है और मुस्लिम वोट बैंक में जबरदस्त सेंध मार दी है!

आपको बता दें की यह मामला काफी टाइम से कोर्ट में लटक रहा था!  जिसपर आज फैसला मुस्लिम महिलाओ के हक में आया है! लेकिन इससे मुस्लिम बोर्ड खुश नही है! और कोई खुल कर सामने नही आ रहा है! लेकिन सूत्रों से पता चला है! की मुस्लिम बोर्ड मिल कर बैठक करने की तेयारी में है!

सुप्रीम कोर्ट ने के तीन जजों जस्टिस कुरियन, जस्टिस जोसेफ, जस्टिस नरीमन और जस्टिस ललित! इन तीनों ने बहुत से तलाक को गैर संवैधानिक और मनमाना करार दिया! और इसे खारिज कर दिया इन तीनों जजों ने तीन तलाक को संविधान के अनुच्छेद 14 का उल्लंघन करार दिया! जजों ने कहा कि संविधान का अनुच्छेद 14 समानता का अधिकार देता है!