मदरसों पर सख्‍त हुए योगी ! दिया होश उड़ाने वाला नया आदेश !!

749

यह बात तो सब जानते है! की जहाँ एक ओर प्रधानमंत्री मोदी निरंतर देश को आगे बढ़ाने में लगे है! वही दूसरी ओर मोदी के नक़्शे कदम पर चलते हुए! यूपी के मुख्यमंत्री योगी हर दिन उत्तर प्रदेश में बदलाव लाने में जोर शोर से लगे हुए है! जनता भी उनका भरपूर साथ दे रही है! और उनके कार्यो की जमकर सरहना कर रही है! अब उत्‍तर प्रदेश की योगी सरकार राज्‍य में चल रहे मदरसों को लेकर नए- नए कदम उठा रही है! यूपी की राजधानी लखनऊ स्थित मदरसों में स्वतंत्रता दिवस पर राष्ट्र ध्वज फहराया गया और राष्ट्रगान गाया! इतना ही नहीं स्‍वतंत्रता दिवस के पूरे कार्यक्रम की वीडियोग्राफी करने का भी आदेश दिया था!

बता दें कि योगी सरकार के इस कदम का मुसलिम संगठनों की तरफ से विरोध भी किया गया था! जिसके बाद गुरुवार को योगी सरकार की तरफ से मदरसों पर सख्‍ती के लिए नया आदेश जारी किया गया है! इस नए आदेश के तहत उत्‍तर प्रदेश में संचालित होने वाले सभी मदरसों को ऑनलाइन किया जाएगा! यह कदम योगी सरकार ने मदरसों में होने वाली धांधली को रोकने के लिए उठाया है!

नए आदेश के तहत उत्‍तर प्रदेश में संचालित होने वाले सभी मदरसों को ऑनलाइन किया जाएगा! यह कदम योगी सरकार ने मदरसों में होने वाली धांधली को रोकने के लिए उठाया हैं! इसके लिए सरकार की तरफ से शुक्रवार को एक पोर्टल लॉन्‍च किया गया हैं! इस पोर्टल के लॉच होने के बाद मदरसा शिक्षा बोर्ड से जुड़े तमाम! मदरसों में होने वाली किसी भी अनियमितता को रोकने में मदद मिलेगी! इस पोर्टल के लॉन्‍च होने के बाद तमाम मदरसों को ऑनलाइन कर दिया जाएगा! जिसके बाद बड़े स्तर पर धांधली को रोकने में मदद मिलेगी!

इस पोर्टल में राज्य के तमाम अनुदानित और गैर अनुदानित मदरसों को ऑनलाइन किया जाएगा! इसकी मदद से मदरसों की शिक्षा व्यवस्था को सुधारने में भी मदद मिलेगी! साथ ही मदरसों की व्यवस्था को पारदर्शी बनाने में भी सरकार को मदद मिलेगी! पोर्टल के लॉन्‍च होने बाद वेतन भुगतान छात्रवृत्ति सहित तमाम दिक्कतों का निपटारा ऑनलाइन किया जाएगा! गौरतलब हैं कि उत्‍तर प्रदेश में कुल 6725 मान्यता प्राप्त मदरसे हैं!

ऑनलाइन पोर्टल पर मदरसों की फोटो भी अपलोड की जाएगी! इसके अलावा वेबसाइट पर शिक्षकों के स्वीकृत पद, तमाम तैनात कर्मचारी और रिक्त पदों का भी ब्यौरा उपलब्ध रहेगा! पोर्टल पर तमाम कर्मचारी और शिक्षक वेतन सहित तमाम बिलों के भुगतान के लिए भी आवेदन कर सकते हैं! इसका निपटारा ऑनलाइन करने की भी व्यवस्था की गई हैं!यही नहीं अधिकारियों की मंजूरी के बाद कर्मचारियों! और शिक्षकों के वेतन को भी सीधे उनके खाते में ट्रांसफर किया जाएगा!